Post

भिवानी बोर्ड लेगा 8वीं की परीक्षा, CBSE और ICSE स्कूलों के बच्चे भी देंगे एग्जाम

PNN/ Faridabad: प्रदेश में ओमिक्रॉन और कोरोना के बढ़ते केसों के बीच हरियाणा सरकार ने सरकारी स्कूलों सहित CBSE समेत दूसरे बोर्ड की आठवीं कक्षा की (8th Class Board Exam) परीक्षाएं लेने का फैसला किया है। इस संबंध में मौलिक शिक्षा निदेशालय ने भिवानी बोर्ड के भेजे प्रस्ताव का अनुमोदन कर दिया है।
पिछले कुछ दिनों से बोर्ड चेयरमैन जगबीर सिंह और शिक्षा मंत्री कंवर पाल के बीच सहमति नहीं बन रही थी। चेयरमैन बोर्ड परीक्षा करवाने के बयान दे चुके थे, शिक्षा मंत्री इंकार कर रहे थे। 21 दिसंबर को हरियाणा मौलिक शिक्षा निदेशालय ने 8वीं की बोर्ड परीक्षाओं को लेकर आए प्रस्ताव का अनुमोदन कर दिया है।
हरियाणा में करीब 2 हजार सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड से संबंधित स्कूल हैं। प्रदेश सरकार के इस फैसले से सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले करीब दो लाख 39 हजार बच्चे प्रभावित होंगे। हालांकि सरकार के इस फैसले को प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन चुनौती देगी। हरियाणा प्रोगेसिव स्कूलर्स कॉन्फ्रेंस के राज्य प्रवक्ता सौरभ कपूर का कहना है कि भिवानी बोर्ड और हरियाणा सरकार के इस फैसले को पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में चुनौती दी जाएगी।
सीबीएसई या फिर अन्य बोर्ड में शिक्षा हासिल करने वाला बच्चा हरियाणा बोर्ड द्वारा लिए जाने वाले एग्जाम को कैसे दे सकता है। सरकार अपने फैसले को सीबीएसई या दूसरे बोर्ड पर थोप रही है। इसे कोर्ट में चुनौती दी जाएगी।

यह भी पढ़ें- राज्यपाल ने कहा बच्चों और शिक्षकों को अहित नहीं होने देंगे: चंद्रसेन शर्मा

Sharing Is Caring
Shafi-Author

Shafi Shiddique