Post

CMA फरीदाबाद चैप्टर ने वेबीनार आयोजित कर बनाया रिकॉर्ड

PNN/ Faridabad: इंस्टीट्यूट ऑफ कॉस्ट अकाउंटेंट ऑफ इंडिया (CMA) फरीदाबाद चैप्टर और टेक्निकल सेल, एनआईआरसी के सहयोग से एक वेबीनार, 3G-210 एनआईटी फरीदाबाद स्थित, सीएमए के कार्यालय पर आज आयोजित किया गया. वेबीनार का टॉपिक (Director Responsibility Statement with reference to Cost Records & Cost Management) पर आधारित था.
सीएमए फरीदाबाद चैप्टर के चेयरमैन सीएमए वरुण सुखीजा ने कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए बताया कि कॉस्ट रिकॉर्ड्स को प्रमाणित करने की अहम भूमिका एक लागत लेखाकार CMA बखूबी निभा रहे हैं और लागत विवरणों की पूर्णता और शुद्धता सुनिश्चित करने के लिए, निदेशक इन विवरणों के आश्वासन पर जोर दे सकते हैं, जो कि लागत लेखाकार प्रैक्टिस द्वारा प्रमाणित हो.
बतौर मॉडरेटर वरिष्ठ सीएमए नवनीत जैन ने कॉस्ट ऑडिट का महत्व बताते हुए कहा कि आज कंपनी के डायरेक्टर लागत लेखाकार (कॉस्ट एंड मैनेजमेंट अकाउंटेंट) से एडवाइजरी एवं ऑडिटर से सलाह ले रही है. लागत रिकॉर्ड का रखरखाव और इसका प्रमाणीकरण भी कंपनी की मदद करता है जब टर्नओवर की सीमा को पूरा करने के बाद कंपनी के लिए लागत लेखा परीक्षा अनिवार्य हो जाती है.
वेबीनार में मुख्य अतिथि मनमोहन कौर (चीफ एडवाइजर कास्ट मिनिस्ट्री ऑफ कॉमर्स एवं इंडस्ट्री) उपस्थित रही. जिन्होंने कॉस्ट रिकॉर्ड्स एवं उसकी जरूरत पर जोर देते हुए कहा कि आज सरकार कॉस्ट रिकॉर्ड्स को कहां और कैसे काम में लाती है इसके बारे में बताया.
गेस्ट स्पीकर सीएमए पार्वती वेंकटेश ने एक बेहतरीन प्रेजेंटेशन के साथ सभी उपस्थित मेंबर्स को डायरेक्टर रिस्पांसिबिलिटी से अवगत कराया जिसमें उन्होंने कहा कि निदेशक की रिपोर्ट में लागत रिकॉर्ड के रखरखाव के संबंध में कोई भी बयान देने से पहले निदेशक मंडल को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि लागत रिकॉर्ड सीआरए-1 के रूप में बनाए रखा जाता है और लागत विवरण संकलित किया जाता है.
आपको बता दें की तकरीबन वेबीनार में 104 सीएमए मेंबर्स देश के विभिन्न राज्यों से उपस्थित रहे, जोकि फरीदाबाद के इतिहास में एक वेबीनार में अबतक की शानदार रिकॉर्ड दर्ज हुई है, जिसका श्रेय फरीदाबाद चैप्टर और एनआईआरसी की टीम के लगातार प्रयास को जाता है.

वेबीनार में सीएमए शालिंदर पालीवाल, एनआईआरसी अध्यक्ष सीएमए मनीष कांडपाल, एनआईआरसी उपाध्याय सीएमए वरुण सुखीजा- अध्यक्ष फरीदाबाद चैप्टर, सीएमए नवनीत कुमार जैन- अध्यक्ष तकनीकी सेल, एनआईआरसी सीएमए बृजेश उपाध्याय, कार्यकारी समिति के सदस्य, सीएमए गिरीश गखर, उपाध्यक्ष, सीएमए रवि साहनी, संकल्प वाधवा, बी स सोगरवाल, दीपक, तरुण वर्मा, एम.आर हांडा, नवीन गेरा, अंकित गुप्ता, गुंजन अरोड़ा, रश्मि सिंगला, फरीदाबाद से और विभिन्न राज्यों के सीएमए शिशिर जयसवाल, एस.एन मित्तल, हरेंद्र पारीक, रुपेश कोठारी, हनी सिंह, हरकेश तारा, महेश गिरी आदि उपस्थित रहे.

यह भी पढ़ें- जरूरतमंदों की मदद करना हमारा फर्ज और इंसानियत की पहचान है: मौ. अशरफ अली

Sharing Is Caring
Shafi-Author

Shafi Shiddique