Post

नव्यम इंटरनेशनल स्कूल के विद्यार्थियों ने जाना क्यों मनाया जाता है हरियाली तीज

PNN/ Faridabad: समयपुर-करनेरा स्थित नव्यम इंटरनेशनल स्कूल में बुधवार को हरियाली तीज मनाई गई। कार्यक्रम में विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन भी किया गया, जिसमें बच्चों व शिक्षिकाओं ने भाग लिया।
आयोजन के दौरान बच्चों ने सावन आयो रे… जैसे गीतों पर बेहतर प्रस्तुति दी। इस दौरान झूले का भी इंतजाम था। मेहंदी प्रतियोगिता भी कराई गई। कार्यक्रम में बच्चे व अध्यापिकाएं हरे रंग के परिधान में शामिल हुए।

Navyam International School

इस दौरान स्कूल के प्रिंसिपल करमजीत शर्मा ने विद्यार्थियों को हरियाली तीज के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि सावन का महीना मस्ती, प्रेम और उत्साह का महीना माना जाता है। यह त्यौहार उत्तर भारत के अनेक प्रांतों में बहुत जोश और उमंग के साथ मनाया जाता है। हरियाली तीज मुख्यतः स्त्रियों का त्यौहार है जो श्रावण मास की शुक्ल पक्ष की तृतीया को मनाया जाता है। सावन का महीना आते ही आसमान काले मेघों से आच्छादित हो जाता है और वर्षा की फुहारें पड़ते ही हर वस्तु नवरूप को प्राप्त करती है, इस समय पृथ्वी चारों तरफ हरियाली की चादर ओढ़ लेती है। तीज का सम्पूर्ण रंग प्रकृति के रंग में मिलकर अपनी अनुपम छठा बिखेरता है प्रकृति भी अपने सौंदर्य में लिपटी मानो इसी समय का इंतज़ार कर रही होती है। करमजीत शर्मा ने अंत में सभी अध्यापकों और विद्यार्थियों को हरियाली तीज की बधाई दी।

यह भी पढ़ें- सरकारी स्कूलों में 22% विद्यार्थियों की वृद्धि, फरीदाबाद पहले स्थान पर

Sharing Is Caring
Shafi-Author

Shafi Shiddique