Post

अरमान स्पेशल स्कूल में दिव्यांग बच्चों ने मनाया शिक्षक दिवस

PNN/ Faridabad: अरमान स्पेशल स्कूल, सेक्टर-16 में दिव्यांग बच्चों ने आज शिक्षक दिवस मनाया. इस अवसर पर दिव्यांग बच्चों ने यह साबित कर दिया कि हुनर किसी का मोहताज नहीं होता बस एक अच्छे मार्गदर्शक की जरूरत होती है.
बच्चों ने भी शिक्षक बने  और विभिन्न प्रकार की कार्यक्रम प्रस्तुत कर उपस्थित जनों का मन मोह लिया.

दिव्यांग बच्चों ने इस दिन को और विशेष बना दिया, बच्चों अपने अपने अंदाज में शिक्षकों को बधाई दिए- कुछ ने लिखकर, स्पीच देकर, म्यूजिक, डांस, स्पोर्ट गेम से शिक्षकों का मन मोह लिया.

संस्था के संचालक विजय चौधरी ने कहा कि हर व्यक्ति के जीवन में उसके शिक्षक का सबसे महत्वपूर्ण स्थान होता है। इतना महत्वपूर्ण कि उसे भगवान का दर्जा दिया जाता है. चौधरी ने बताया कि ऐसे बच्चों के लिए शिक्षक की भूमिका बहुत अहम होता है, क्योंकि बच्चों को सुनने, बोलने, चलने और समझने में कठिनाई ज्यादा होती है, इसलिए ऐसे बच्चों को संभालने में अध्यापकों को ज्यादा समस्याओं का सामना करना पड़ता है. लेकिन ऐसी परिस्थितियों को दूर करने के लिए विशेष शिक्षा में डिग्री किये शिक्षक ही दिव्यांग बच्चों को अच्छी तरह से देखभाल और उन्हें आत्मनिर्भर बना सकते हैं।

विजय चौधरी ने सभी को शिक्षक दिवस की बधाई देते हुए दो पंक्तियां शिक्षक दिवस पर कहे.

“गुमनामी के अंधेरे में था, पहचान बना दिया
जीवन की हर मुश्किल और उलझन को आसान बना दिया.
गुरु की कृपा ने मुझे एक अच्छा इंसान बना दिया.”

दिव्यांग बच्चों की सहयोग या अरमान संस्था से जुड़ने के लिए संपर्क कर सकते है, +91-8851041768.

Sharing Is Caring
Shafi-Author

Shafi Shiddique