Post

खट्टर की सरकार में सरकारी स्कूल हो रहे खंडहर: धर्मवीर भड़ाना

PNN/Faridabad: आम आदमी पार्टी के बडख़ल विधानसभा क्षेत्र अध्यक्ष धर्मबीर भड़ाना ने बुधवार को एन.एच.2 स्थित सरकारी स्कूल का दौरा किया और वहां पर स्कूल के  हालातों का जायजा लिया। स्कूल के हालातों और दयनीय स्थिति को देखते हुए धर्मबीर भड़ाना ने स्कूल के प्रिंसीपल को कहा कि इन परिस्थितियों में बच्चे कैसे शिक्षा ग्रहण कर पाएंगे,जब उनको मूलभूत सुविधांएं ही नहीं मिलेंगी। उन्होंने कहा कि भाजपा राज में केवल ग्रामीण क्षेत्रों ही नहीं, बल्कि शहरी क्षेत्रों के स्कूलों की हालत भी बहुतबुरी है। ऐसे माहौल में बच्चे कैसे शिक्षा ग्रहण कर पाएंगे,जबकि प्रदेश सरकार शिक्षा को लेकर हरियाणा के लोगों से बड़े-बड़े दावे कर रही है। जबकि वास्तविकता में हरियाणा सरकार हरियाणा के विद्यार्थियों के भविष्य और उनकी जिंदगी के साथ खिलवाड़ कर रही है ।

धर्मबीर भड़ाना ने स्कूल का निरीक्षण करते हुए पाया कि वहां पर बच्चों के लिए न तो बैठने की कोई व्यवस्था थी और न ही शुद्ध पीने के पानी की। पीने के पानी की टंकी एवं शौचालय जर्जर अवस्था में हैं। स्कूल के कमरों की हालात दयनीय है, जिनमें जोखिम लेकर बच्चे शिक्षा ग्रहण करते हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश की मनोहर लाल सरकार निजी स्कूलों को बढ़ावा दे रही है, इसलिए वो सरकारी स्कूलों की तरफ ध्यान नहीं देती। क्योंकि इन निजी स्कूलों से मोटा राजस्व सरकार को जाता है। ऐसे में गरीब एवं मजबूर बच्चे किस प्रकार से बेहतर शिक्षा ग्रहण कर पाएंगे। उन्होंने कहा कि अगर आप इन स्कूलों एवं सरकारी अस्पतालों में आकर देखेंगे तो, विकास के बड़े-बड़े दावे करने वाली भाजपा सरकार का चेहरा बेनकाब हो जाएगा। सरकार ने निजी अस्पतालों एवं स्कूलों को लूूट का लाइसेंस दे रखा है और अभिभावक एवं आम जन इस लूट की चक्की में पिस रहे हैं।

आप नेता धर्मबीर ने कहा कि आप दिल्ली के स्कूलों का दौरा करके देखें और हरियाणा का दोनों में जमीन –आसमान का फर्क आप स्वयं ही महसूस कर लेंगे। उन्होंने कहा कि अगर आम आदमी पार्टी की सरकार प्रदेश में आती है तो दिल्ली की तर्ज पर हरियाणा में लोगों को बिजली हाफ और पानी माफ दिया जाएगा। शिक्षा एवं स्वास्थ्य की बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी और आमजन एवं गरीबों की पूरी सुनवाई होगी। इस अवसर पर उनके साथ माधव झा, सुबेदार सोहनराज, निरंकार सिंह, एडवोकेट डी एस चावला, सागर दुआ आदि लोग मौजूद रहे।

Sharing Is Caring
Shafi-Author

Shafi Shiddique