Post

विद्यासागर आर्चरी अकादमी की खिलाड़ी का गोल्ड पर निशाना, स्कूल ने खिलाड़ी व कोच को नगद पुरस्कार से किया सम्मानित

PNN/ Faridabad: विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल (Vidyasagar International School), घरौडा- ग्रेटर फरीदाबाद की आर्चरी अकादमी की खिलाड़ी रितिका यादव ने राष्ट्रीय प्रतियोगिता में गोल्ड जीता है। उन्होंने बैंगलुरू में आयोजित खेलो इंडिया प्रतियोगिता में यह कारनामा कर हरियाणा और फरीदाबाद का नाम रोशन किया है। वह इस पांच दिवसीय प्रतियोगिता में हरियाणा की चार सदस्यीय आर्चरी दल में शामिल थी।

रितिका यादव जब मैडल जीतकर वापिस आई तो यहां विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में उसका जोरदार स्वागत हुआ। स्कूल प्रबंधन ने होनहार खिलाड़ी पर फूलों की बरसा की और मिठाई खिलाड़ी।

Vidyasagar Archery academy

स्कूल के चेयरमैन धर्मपाल यादव ने रितिका और उनके कोच नीरज वशिष्ठ को 11-11 हजार रुपये का नगद इनाम देकर हौंसला बढ़ाया। उन्होंने कहा कि उन्हें बेटियों को आगे बढ़ते देख बहुत खुशी मिलती है। उन्होंने बताया कि हम स्कूल के प्रारंभ काल से ही बेटियों के एडमिशन नि:शुल्क करते हैं और उनकी सुरक्षा शिक्षा का भी पूरा ख्याल रखते हैं। यही कारण है कि ग्रेटर फरीदाबाद क्षेत्र में हमारे यहां सबसे ज्यादा बेटियां शिक्षा प्राप्त कर रही हैं और विभिन्न खेलों में मैडल भी ला रही हैं। उन्होंने रितिका को भविष्य में भी हर प्रकार की मदद देने की बात कही।

इस अवसर पर हरियाणा खेल विभाग के उप निदेशक गिर्राज यादव ने खिलाड़ी को आशीर्वाद दिया और उसे इसी प्रकार आगे बढ़ने की प्रेरणा दी। उन्होंने सभी को खूब खेलने और अवॉर्ड जीतने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि हरियाणा की सरकार अपने खिलाड़ियो को देश में सबसे ज्यादा कैश प्राइज देती है। मैं आप लोगों की भरपूर मदद करने के लिए उपलब्ध रहूंगा। यादव भी पैरा ओलम्पियन रहे हैं और अर्जुन अवॉर्डी हैं।

इस अवसर पर स्कूल निदेशक दीपक यादव ने बताया कि रितिका प्रारंभ से ही होनहार खिलाड़ी रही हैं। वह हमारे विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल की छात्रा रही हैं और फिलहाल हायर स्टडीज के लिए एमडी यूनिवर्सिटी में पढ़ रही हैं। वह हमारी अकादमी में ही कोच नीरज वशिष्ठ के साथ घंटों प्रैक्टिस करती हैं। यादव ने बताया कि रितिका स्कूल की विद्यार्थी रहते हुए भी अनेक राष्ट्रीय व क्षेत्रीय प्रतियोगिताओं में अनेक खिताब अपने नाम कर चुकी हैं। हमें रितिका पर नाज है। यादव ने बताया कि हमने रितिका के सभी मैचों को डीडी चैनल पर लाइव देखा था जिसके बाद उसके वापिस आने की उत्सुकता रोज बढ़ रही थी जो आज उसके आने पर पूरी हो गई।

दीपक यादव ने कहा कि स्कूल ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की मुहिम की प्रारंभ काल से ही अपनाया हुआ है। जिसका असर है कि हमारे यहां बेटों से अधिक संख्या में बेटियां शिक्षा प्राप्त कर रही हैं और आगे बढ़ रही हैं। उन्होंने बताया कि स्कूल में संस्कारशाला के रूप में नित्य हवन होता है, जिसका प्रभाव बच्चों और स्टाफ सभी में देखने को मिल रहा है।

इस अवसर पर रितिका के परिजन और आसपास क्षेत्र के मौजिज लोग भी बेटी को आशीर्वाद देने के लिए मौजूद थे। वहीं स्कूल की प्रिंसिपल कुलविन्दर कौर, वाइस प्रिंसिपल योगेश चौहान, टीचर पूजा शर्मा, पीटीआई मुकेश आदि भी प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें- मेहरचंद हरसाना ईद की मुबारकबाद देकर कहा, मेरी ख़ुदा से दुआ है…

Sharing Is Caring
Shafi-Author

Shafi Shiddique