Post

राज्यस्तरीय बाल महोत्सव में आपका बच्चा दिखा सकता है टैलेंट…यहां लॉगइन करें

PNN India: उपायुक्त यशपाल ने कहा कि हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद द्वारा इस बार कोविड-19 की महामारी को देखते हुए राज्य स्तरीय बाल महोत्सव को ऑनलाईन आयोजित करने का निर्णय लिया है। महोत्सव में भाग लेने वाले बच्चे www.childwelfareharyana.com पर ऑनलाईन हिस्सा ले सकते हैं। उपायुक्त यशपाल शुक्रवार को लघु सचिवालय के छठे तल स्थित कॉन्फ्रेंस हाल में पत्रकार वार्ता को संबोधित कर रहे थे। 
उपायुक्त ने कहा कि प्रदेश के बच्चों की चहुंमुखी प्रतिभा को मंच प्रदान करने के लिए हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि इस बार राज्य स्तरीय बाल महोत्सव बदलाव के संदेश से ओतप्रोत रहेगा। विश्व स्वास्थ्य संगठन एवं भारत व हरियाणा सरकार के निर्देशानुसार बच्चों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए इस बार सभी प्रतियोगिताएं ऑनलाईन करवाई जा रही हैं। इससे पहले भी परिषद द्वारा ऑनलाईन ही जय हिंद व रंगमंच प्रतियोगिता भी आयोजित करवाई गई थी। उन्होंने कहा कि इस बार भी लाखों बच्चे घर बैठे ही इस प्रतियोगिता के लिए उत्साहित हैं।

पत्रकारों को जानकारी देते हुए उपायुक्त ने आवाहन किया कि इस संबंध में अधिक से अधिक बच्चों को जागरूक करें ताकि वह अपने घरों में रहकर ही इस प्रतियोगिता में हिस्सा ले सकें। उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि अगर कोई बच्चा डांस करना चाहता है तो वह घर में ही नृत्य कर उसका वीडियो बनाकर हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद के पोर्टल पर अपलोड कर दे। उपायुक्त ने बताया कि प्रतियोगिता के लिए 23 अलग-अलग विषय रखे गए हैं। इनमें एकल नृत्य (क्लासिक), एकल नृत्य (फिल्मी), एकल नृत्य (फोक), ग्रुप नृत्य-(क्लासिकल), ग्रुप नृत्य (फिल्मी), ग्रुप नृत्य (फोक) के लिए 3 से 5, 5 से 10, 10 से 14 और 14 से 18 आयु वर्ग के बच्चे भाग ले सकते हैं। इसके लिए वह 2 से 3 मिनट का वीडियो बनाकर अपलोड www.childwelfareharyana.com/balmahotsav पर अपलोड कर सकते हैं। इसके लिए विषयवस्तु कोई भी हो सकती है। साथ ही फैंसी ड्रैस प्रतियोगिता में 3-5 वर्ष के बच्चे हिस्सा ले सकते हैं और उन्हें अपना फोटो अपलोड करना होगा। वहीं श्रेष्ठ ड्रामेबाज के लिए 5 से 10 व 5 से 10 आयु वर्ग के बच्चे हिस्सा ले सकते हैं और इन्हें भी 2 से 3 मिनट का वीडियो बनाकर अपलोड कर सकते हैं। क्ले माडलिंग व कार्ड मेकिंग, दिया मोमबत्ती की सजावट में 3 से 5, 5 से 10, 10 से 14 और 14 से 18 आयु वर्ग के बच्चे हिस्सा ले सकते हैं। इसके लिए उन्हें अपना फोटो पोर्टल पर अपलोड करना होगा। स्केचिंग में 5-10, 10-14 व 14-18 आयु वर्ग के बच्चे हिस्सा ले सकते हैं। इसके लिए पांच विषय रखे गए हैं। इनमें कोई भी प्रभावशाली व्यक्ति, कोरोना वारियर (डॉक्टर, पुलिस व अन्य) स्केचिंग स्टेच्यू ऑफ़ यूनिटी, किसी भी खिलाड़ी का स्कैच, किसी भी यात्रा या प्रसिद्ध स्थल का स्केच हो सकता है। पोस्टर मेकिंग के लिए आत्मनिर्भर भारत, कोरोना प्रभावित संसार, ऑनलाईन शिक्षा के लाभ-हानि, कोविड-19 में साफ-सफाई व स्वच्छता की प्रथाएं व अभ्यास विषय पर 5 से 10, 10 से 14 व 14 से 18 आयु वर्ग के बच्चे हिस्सा ले सकते हैं। देश भक्ति ग्रुप गीत में 5 से 10, 10 से 14 व 14 से 18 आयु वर्ग के बच्चे हिस्सा ले सकते हैं। इसके लिए उन्हें 2 से 3 मिनट का वीडियो डालना होगा। निबंध में हिंदी या अंग्रेजी विषय में से किसी एक भाषा को चुने इसके लिए स्व-परिवर्तन से ही विश्व परिवर्तन होगा, परिवर्तन संसार का नियम है, कोविड-19 महामारी, बाल अधिकार और प्रकृति संरक्षण विषय रखे गए हैं। इस प्रतियोगिता के लिए 5 से 10 वर्ष के बच्चे 200 शब्दों में, 10 से 14 वर्ष के बच्चे 300 शब्दों में और 14 से 18 वर्ष तक के बच्चे 500 शब्दों में अपना निबंध लिखकर उसकी फोटो भेज सकते हैं। डेक्लामेशन के लिए राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020, मोबाईल शिक्ष में साधक या बाध, बाल अधिकार, राष्ट्रीय निर्माण में युवाओं की भूमिका, नशा नाश का वार और परिवर्तन समाज का नियम है विषय रखे गए हैं। इस प्रतियोगिता में 5 से 10, 10 से 14 व 14 से 18 आयु वर्ग के बच्चे हिस्सा ले सकते हैं। एकल गीत में किसी भी विषय पर 3 से 5, 5 से 10, 10 से 14 व 14 से 18 आयु वर्ग के बच्चे दो से तीन मिनट का गीत, देशभक्ति गीत में 3 से 5, 5 से 10, 10 से 14 व 14 से 18 आयु वर्ग के बच्चे दो से तीन मिनट का गीत, कलश की सजावट प्रतियोगिता में 10 से 14 व 14 से 18 आयु वर्ग, रंगोली में 10 से 14 व 14 से 18 आयु वर्ग, फेस पेंटिंग प्रतियोगिता में अनेकता में एकता, किसी भी देश का झंडा, कोई भी खेल, विषय पर पेंटिंग कर सकते हैं। इसके लिए हर्बल रंगों का प्रयोग ही करें। फोटोग्राफी में 10 से 14 व 14 से 18 आयु वर्ग के बच्चे हिस्सा ले सकते हैं। बेबी शो में 6 माह से एक वर्ष, एक से दो वर्ष व दो से तीन वर्ष आयु वर्ग के बच्चे हिस्सा ले सकते हैं। इसके लिए उनके 30 से 35 सेकेंड के वीडियो बनाकर अपलोड करने होंगे। पत्रकार वार्ता के दौरान जिला बाल कल्याण अधिकारी एस.एल. खत्री, उदय चंद व मांगे राम भी मौजूद थे।
यह भी पढ़ें-

HTET Exam की तारीखें घोषित…यहां देखें पूरा सेड्यूल

Sharing Is Caring
Shafi-Author

Shafi Shiddique