Post

हरियाणा में 19 तक बढ़ा लॉकडाउन, लेकिन इस बार मिली ये सारी छूट

PNN/ Faridabad: हरियाणा सरकार ने तमाम तरह की रियायतों के साथ राज्य में लाकडाउन की अवधि 19 जुलाई तक बढ़ा दी है। इस दौरान आइटीआइ और ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट खोलने की अनुमति प्रदान कर दी गई है। प्रदेश सरकार ने दोहराया कि कोविड से बचाव के नियमों का अनुपालन नहीं करने वालों पर कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
कोविड के नियमों का पालन करना हर किसी के हित में है। हरियाणा के मुख्य सचिव विजयवर्धन ने रविवार शाम को आदेश जारी कर महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा के तहत लाकडाउन की अवधि 19 जुलाई को सुबह पांच बजे तक बढ़ा दिया है, लेकिन साथ ही कहा कि जितनी भी रियायतें दी जा रही हैं, उनमें कोविड से बचाव के नियमों का अनुपालन करना जरूरी है।
प्रदेश सरकार ने नेशनल ला यूनिवर्सिटी दिल्ली के वाइस चांसलर की अनुमति का हवाला देते हुए कामन ला एडमिशन टेस्ट (सीएलएटी) 23 जुलाई को आयोजित किए जाने की बात कही है। हरियाणा सरकार ने शादियों में बारात लाने और ले जाने की भी अनुमति प्रदान कर दी। किसी भी विवाह समारोह और अंतिम संस्कार क्रिया में अब 100 तक लोग हाजिर हो सकेंगे। पहले यह अनुमति सिर्फ 50 लोगों तक थी। खुले में अब 100 के बजाय 200 लोग इकट्ठा हो सकेंगे।

राज्य सराकर ने प्रदेश के सभी स्पा सेंटर सुबह छह बजे से रात आठ बजे तक खोलने की अनुमति प्रदान कर दी, जबकि सिनेमाघर सीटों की 50 फीसद उपस्थिति के साथ चालू हो सकेंगे। प्रदेश सरकार ने स्वीमिंग पूल, ट्रेनिंग सेंटर, कोचिंग सेंटर, लाइब्रेरी और ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट भी खोलने की अनुमति दी है, लेकिन इन सभी में कोविड के नियमों का अनुपालन जरूरी है।
राज्य सरकार कालेज पहले ही खोलने की अनुमति दे चुकी है। अब राज्य की सभी आइटीआइ खोली जा सकेंगी। हरियाणा के गृह व स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने लोगों से कहा कि अभी कोविड का खतरा टला नहीं है। कोविड से बचाव के लिए नियमों का अनुपालन करने में सभी की भलाई है। बिना मास्क लोगों के चालान काटने को पुलिस को निर्देश दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें- डीजल-पेट्रोल व बढ़ती महंगाई को लेकर भाजपा के खिलाफ कांग्रेसियों ने निकाला साइकिल रोष प्रदर्शन

Sharing Is Caring
Shafi-Author

Shafi Shiddique