Post

फरीदाबाद के सभी निजी व सरकारी अस्पतालों का रिपोर्ट प्रस्तुत करें: अतिरिक्त मुख्य सचिव

EPNN/ Faridabad: स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा ने कहा कि विशेषज्ञ कोविड-19 की तीसरी लहर की संभावना जता रहे हैं। ऐसे में हमें प्रत्येक स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहना होगा। उन्होंने जिला के सभी सरकारी व निजी अस्पतालों में स्वास्थ्य सुविधाओं की समीक्षा करते हुए उपायुक्त जितेंद्र यादव व सीएमओ डा. विनय गुप्ता को निर्देश दिए कि सभी अस्पतालों में आक्सीजन की व्यवस्था सहित सभी स्वास्थ्य सुविधाओं का आडिट कर उन्हें जल्द से जल्द रिपोर्ट प्रस्तुत करें।

उन्होंने मीटिंग में सभी निजी अस्पतालों की क्रमशः समीक्षा करते हुए कहा कि प्रत्येक अस्पताल ‌अधिक से अधिक आक्सीजन उत्पादन करने वाले पीएसए प्लांट लगवाएं। जिन अस्पतालों में कम क्षमता के प्लांट हैं उनको अपग्रेड करें। इसके साथ ही सभी प्लाटों का ट्रायल रन कर यह देखें कि प्रत्येक बैड पर आक्सीजन की पर्याप्त सप्लाई हो रही है अथवा नहीं। उन्होंने निजी अस्पतालों से आईसीयू बैड, वेंटिलेटर बढ़ाने व पीकू व निकू वार्डों में ‌बैड की संख्या बढ़ाने के निर्देश भी दिए। उन्होंने दोनों जिलों में आक्सीजन स्टोरेज व्यवस्था व सिलेंडरों के स्टाक की जानकारी भी ली। इसके साथ ही उन्होंने दोनों जिला में वेक्सिनेशन कार्यक्रम की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि 30 सितंबर तक शत-प्रतिशत लोगों को वेक्सिन अवश्य लग जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि दूसरी डोज निर्धारित नियमों के अनुसार ही लगानी है। उन्होंने फरीदाबाद सीएमओ को निर्देश देते हुए कहा कि ऐसे स्लम क्षेत्रों के हॉट स्पॉट चिह्नित करें जहां पर पिछले दिनों काफी संख्या में कोविड-19 के मामले आए हैं। उन्होंने कहा कि हमें बेहद सतर्कता के साथ कार्य करना है और कि‌सी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहना है। उन्होंने इसके पश्चात फरीदाबाद व पलवल जिला की सामान्य अस्पताल, पीएचसी, सीएचसी व अन्य क्षेत्रों में सामान्य टीकाकरण व अन्य स्वास्थ्य सेवाओं की समीक्षा भी की। मीटिंग में मंडल आयुक्त संजय जून, पुलिस आयुक्त विकास अरोड़ा, एनआरएचएम के निदेशक प्रभजोत सिंह, उपायुक्त फरीदाबाद जितेंद्र कुमार, उपायुक्त पलवल कृष्ण कुमार, स्मार्ट सिटी की सीईओ डा. गरिमा मित्तल, पुलिस उपायुक्त निशु सिंगला, अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर सिंह मान, सीएमओ डा. विनय गुप्ता, डिप्टी सीएमओ डा. राजेश श्योकंद, डा. रामभगत सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी निजी अस्पतालों के संचालक भी मौजूद थे।

यह भी पढ़ें- KM कॉन्वेंट स्कूल के विद्यार्थियों ने डॉ राधाकृष्णन के आदर्शो पर चलने का लिया संकल्प

 

Sharing Is Caring
Shafi-Author

Shafi Shiddique