Post

70वें संविधान दिवस पर, एसडीएम अमित कुमार का सुझाव आपको भी आएगा पसंद

PNN/Faridabad: एसडीएम फरीदाबाद अमित कुमार ने कहा कि भारतीय संविधान ने देश वासियों को बराबर के अधिकार दिये हैं। संविधान के अनुसार अधिकारियों और कर्मचारियों को अधिकारों के साथ-साथ कर्तव्यों का भी पालन सुनिश्चित करना चाहिए।

एसडीएम अमित कुमार मंगलवार को स्थानीय लघु सचिवालय के बैठक कक्ष में  70वें संविधान दिवस के उपलक्ष्य में  उपमंडल स्तरीय संविधान दिवस कार्यक्रम में अधिकारियों और कर्मचारियों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने लघु सचिवालय परिसर में उपस्थित अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ स्वयं भी  भारतीय संविधान के प्रति सत्य व कर्तव्य निष्ठ बारे प्रस्तावना पढी और कहा कि राष्ट्रीय एकता के लिए सतत् कार्य करते रहें। 

संविधान दिवस पर एसडीएम अमित कुमार, डीडीपीओ राकेश कुमार  सहित एसीपी महेंद्र सिंह वर्मा  ने संविधान निर्माता डा.भीमराव अंबेडकर को  नमन किया। उन्होंने कहा कि भारतीय संविधान की विशेषता है कि देश के सभी नागरिकों को बराबर के अधिकार मिले हैं, संविधान के अनुसार कोई भी नागरिक छोटा या बड़ा नहीं है। भारतीय संविधान देश को संपूर्ण प्रभुत्व-सम्पन्न, समाजवादी, पंथ निरपेक्ष, लोकतंत्रात्मक गणराज्य बनाने के लिए अपने समस्त नागरिकों को सामाजिक,आर्थिक और राजनीतिक न्याय, विचार, अभिव्यक्ति, विश्वास, धर्म और उपासना की स्वतंत्रता, प्रतिष्ठा व समता का अवसर प्रदान करता है। उन्होंंने कहा कि भारतीय संविधान समता, न्याय व समरसता का प्रतीक  है। उन्होंने कहा कि हमारी संविधान सभा  ने व्यक्ति की गरिमा, राष्ट्रीय एकता  व अखंडता सुनिश्चित करने वाली बंधुता बढ़ाने के लिए दृढ़ संकल्प होकर 26 नवंबर 1949 को अनुपम संविधान देशवासियों को समर्पित किया। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी व कर्मचारी संविधान की मूल भावना को आत्मसात करते हुए स्वतंत्रता सेनानियों के सपनों को साकार करने का कार्य करें।
   उन्होंंने कहा कि सभी अधिकारी व कर्मचारी संविधान दिवस पर प्रस्तावना के अनुरूप  अपने दायित्व निर्वहन के समय सार्थक करते हुए बिना किसी भेदभाव व निष्पक्ष भाव से कार्य करें।

उल्लेखनीय है कि संविधान दिवस पर जिला में तीनों उपमंडल में उपमंडलीय स्तर पर संविधान स्थापना दिवस कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं, विशेषकर स्कूल व कालेज में विद्यार्थियों को संविधान के बारे में जानकारी दी गई। इस अवसर पर लघु के सभी विभागों के  अधिकारीगण व कर्मचारी उपस्थित रहे।

Sharing Is Caring
Shafi-Author

Shafi Shiddique