Post

सीएम खट्टर ने स्कूल के विकास के नाम पर हड़पे 14 करोड रुपए: केजरीवाल

PNN/Faridabad: अब तक इस देश में हुंकार रैली, परिवर्तन रैली, विकास रैली, संपूर्ण विकास रैली होती आई है, लेकिन किसी की स्कूल-अस्पताल रैली करने की हिम्मत नहीं हुई। सभी पार्टियां जनता की आंखों में धूल झोंकती आ रही हैं। मैं खट्टर साहब को ओपन चैलेंज करता हूँ कि स्कूल-अस्पताल रैली करके दिखाओ। मैं भी रैली में शामिल होने आऊंगा। आमने-सामने बात हो जाएगी। अगर खट्टर साहब ये नहीं करते हैं तो मैं दिल्ली में स्कूल-अस्पताल रैली कर लेता हूं। खट्टर साहब वहां आ जाएँ। आमने-सामने बात हो जाएगी। ये वाक्य फरीदाबाद के तिगांव अनाज मंडी में आयोजित एक जन सभा को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने खट्टर को चुनौती देते हुए कहे।

इस अवसर पर हरियाणा के सरकारी स्कूलों का जिक्र करते हुए केजरीवाल ने कहा, “मैंने हरियाणा के कई हिस्सों में जाकर स्कूलों को देखा है। स्कूलों की हालत जर्जर अवस्था में है, स्कूल खंडहर बने हुए हैं। उन्होंने कहा कि  हरियाणा राज्य के लोग खट्टर सरकार से अब  पूछ रहे हैं कि अगर 3 साल में केजरीवाल दिल्ली के स्कूल-अस्पताल ठीक कर सकते हैं तो खट्टर ने 4 साल में क्यों नहीं किये ।

केजरीवाल ने हरियाणा में शिक्षा के बजट में भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कहा कि हमने शिक्षा पर 14,000 करोड़ रुपये खर्च किये। खट्टर ने भी 14,000 करोड़ रुपये खर्च किये। दिल्ली आकर वहाँ के स्कूल देख लो और हरियाणा के स्कूल देख लो। अगर दिल्ली के स्कूल चमक गये तो हरियाणा के क्यों नहीं चमके, उन्होंने खट्टर और शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा से पूछते हुए कहा कि कहां गये 14,000 करोड़ रुपये।

केजरीवाल ने खट्टर पर तंज कसते हुए कहा कि बहुत ईमानदारी की बात करते हैं खट्टर साहब। तो चलिए बताएं कि कहां गये वह 14,000 करोड़ रुपये हरियाणा के स्कूलों की मरम्मत के नाम पर लिए थे। बताएं कि स्कूलों की हालत इतनी ख़राब क्यों है।

उन्होंने खट्टर सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि खट्टर सरकार स्कूल में पैसा लगाने की वजह सारा पैसा खुद खा गई। केजरीवाल ने कहा कि गांव वालों के बुलावे पर वह असंध विधानसभा के बाल बवाना गांव में डिस्पेंसरी देखने आए थे परंतु खट्टर साहब ने उन्हें वहां जाने से जानबूझकर रोक लिया। इसका मतलब है कि डिस्पेंसरी की भी हरियाणा के स्कूलों की तरह है बुरी हालत होगी जिस डर से हरियाणा के सीएम खट्टर साहब ने उन्हें डिस्पेंसरी तक पहुंचने ही नहीं दिया।

इस दौरान चुटकी भरते हुए केजरीवाल ने कहा कि वह तो यह कह रहे हैं कि खट्टर साहब को राजनीति भी नहीं आती। सीएम खट्टर ने उन्हें डिस्पेंसरी देखने जाने से रोक दिया, इससे पूरी दुनिया में खट्टर की पोल खुल गई। दुनिया को पता लग गया कि खट्टर की डिस्पेंसरी खटारा है। केजरीवाल ने कहा कि खट्टर ने उन्हें रोककर उनका अपमान नहीं किया। ये हरियाणा  के लोगों का अपमान था, क्योंकि सीएम खट्टर ने उन्हें उनके घर जाने से रोक दिया।

केजरीवाल ने कहा कि जब भी वह हरियाणा आते हैं तो अपने घर आते हैं।खट्टर साहब ने हरियाणा के बेटे को उसके घर आने से रोका है। हरियाणा के लोग अपने बेटे के अपमान का बदला लेंगे। केजरीवाल ने कहा कि वह डिस्पेंसरी देखने जा रहे थे तो खट्टर साहब की हवा पतली हो गई। उन्होंने कहा कि वह  खट्टर को दिल्ली आकर मोहल्ला क्लीनिक देखने का न्योता देते हैं।

  इस दौरान उन्होंने कहा कि सीएम जी के स्वागत के लिए वह बाॅर्डर पर ही मिल कर माला पहनाएंगे। उनके साथ ही वह दिल्ली चलेंगे। केजरीवाल ने कहा कि पिछले दिनों फरीदाबाद से कुछ लोग आए थे। बताने लगे कि प्राइवेट स्कूल वालों ने बहुत गुंडागर्दी मचा रखी है। हर साल फीस बढ़ा देते हैं। दिल्ली में हमारी सरकार बनने से पहले वहां भी यही हाल था। हर साल ये प्राइवेट स्कूल वाले फीस बढ़ा लेते थे। लेकिन दिल्ली में 3 साल से हमने प्राइवेट स्कूलों को फीस नहीं बढ़ाने दी। जिस स्कूल ने फीस बढ़ाने की हिम्मत की, उनसे फीस कम कराकर पैरेंट्स को पैसे वापस करवाए।

भारत के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ होगा कि स्कूलों की फीस कम कराकर बच्चों को चेक वापस करवाए गये हों। केजरीवाल ने कहा कि वह कहना चाहते हैं कि आज से हरियाणा के अंदर प्राइवेट स्कूलों की फीस बढ़नी बंद। अगर खट्टर साहब ये नहीं मानते हैं तो चिंता मत करो। अगली सरकार आम आदमी पार्टी की बनवा देना। 15 दिन के अंदर आपके पैसे ब्याज सहित वापस करवाऊंगा।  किसानों और सेक्टर वासियों की समस्याओं का जिक्र करते हुए केजरीवाल ने कहा कि जिन किसानों की जमीनों का अधिग्रहण किया गया, उनको मुआवजा नहीं मिल रहा है और जिन लोगों ने अपनी खून-पसीने से सेक्टरों में मकान लिए उनको एन्हैंसमेंट के नाम पर लूटा जा रहा है। केजरीवाल ने कहा कि एन्हैंसमेंट के नाम पर बहुत बड़ा घोटाला हुआ है। सेक्टर वालों से वसूली की जा रही है। लेकिन किसानों को उनका हिस्सा भी नहीं मिल रहा। किसानों के नाम पर फर्जी एकाउंट खोले गये हैं। इसमें माफिया शामिल है। आप सब लोग मिलकर हरियाणा में आम आदमी पार्टी की सरकार बनवा दो। किसानों को मुआवजा भी दिलवाएंगे और एन्हैंसमेंट के नाम पर सेक्टर वासियों को भी परेशान नहीं किया जाएगा। पुरानी पेंशन की बहाली का मुद्दा उठाते हुए केजरीवाल ने कहा कि हमने दिल्ली में पुरानी पेंशन बहाल कर दिया है। अब हरियाणा के सभी सरकारी कर्मचारियों को मिलकर यहां आम आदमी पार्टी की सरकार बनानी है। हम 15 दिन के भीतर यहां भी पुरानी पेंशन बहाल कर देंगे।

 

Sharing Is Caring
Shafi-Author

Shafi Shiddique