Post

सूरजकुंड मेला: सूरजकुंड मेला में है सुरक्षा का जबरदस्त इंतजाम, एक क्लिक में देखिए पूरा अपडेट

PNN/ FARIDABAD: पुलिस आयुक्त केके राव ने 1 फरवरी से शुरू होने वाले सूरज कुंड इंटरनेशनल क्राफ्ट मेले का दौरा कर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। मेला ड्यूटी में  तैनात पुलिस अधिकारियों/कर्मचारियों के साथ मीटिंग करके आवश्यक दिशा निर्देश दीया।

पुलिस आयुक्त ने मेले में मौजूद सभी पुलिस अधिकारियों को सुरक्षा व्यवस्था को सुदृढ बनाने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए है। मेले की सुरक्षा व्यवस्था के मध्यनजर 8 जोन/सेक्टर में बांटा गया है।

पुलिस आयुक्त ने बताया कि मेले की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए पुलिस कर्मीयों की सिफट वाईज डयूटी लगाई गई है। ताकि डयूटी दुरस्त तरीके से की जा सके। सभी गेटो पर मेटल डिटेक्टर व डीएफएमडी होंगे. मेले की सुरक्षा व्यवस्था को सुनिश्चित करने व अपराधिक गतिविधियों पर नजर रखने के लिए ड्रोन कैमरे से भी निगरानी की जाएगी।

सुरक्षा के मध्यनजर अपराधिक तत्वों व मंचलो पर नजर रखने के लिए महिला रेपीडेक्स पुलिस, स्वेट कमांडो व सिविल कपडो में पुलिस कर्मी तैनात किए गए है। इसके अलावा दूरबीन से भी मंचलो पर नजर रखी जाएगी। पुलिस कर्मी मेले के चारो और उंची-उंची पहाडियों पर भी असले के साथ तैनात होंगें।

उन्होने बताया कि बुलेट पू्रफ जिपसी, डाॅग स्कवाड टीम, मोबाईल जैमर, स्वेट कमाॅडों एवं सुरक्षा के मध्यनजर सीआईडी टीम का बम निरोधक दस्ता, एंटी स्बोटेज टीम, भी तैनात होगी।

मेले की सुरक्षा को चाक-चौबंद करने के लिए हरियाणा पुलिस के स्पेशल कमांडो बुलेट प्रूफ जैकेट एवं ऑटोमेटिक गन सहित तैनात किए जाएंगे।

टिकट काउंटर, वीआईपी पार्किंग, मचान इत्यादि पर भी हथियार सहित पुलिसकर्मी तैनात किए जाएंगे।

पुलिस आयुक्त ने बताया कि मेला की सुरक्षा के मध्यनजर  2200 से अधिक पुलिस कर्मी की डयूटी लगाई गई है जिसमें फरीदाबाद पुलिस के अधिकारी एवं कर्मचारियों के अलावा अन्य जिलों से भी पुलिस बल तैनात किया गया है। अन्य जिलों से 1 एएसपी,9 डीएसपी सहित लगभग 1000 पुलिसकर्मी अन्य जिला से आए है, को तैनात किया जाएगा।

इसके अलावा ट्रैफिक को सुचारू रूप से चलाने के लिए करीब 500 ट्रैफिक पुलिसकर्मी/ होमगार्ड तैनात किए गए हैं जोकि मेले के अंदर एवं बाहर तैनात होंगे ताकि मेले में आने वाले लोगों को ट्रैफिक से संबंधित किसी भी तरह की परेशानी का सामना ना करना पड़े।

पुलिस आयुक्त ने बताया कि मेला परिसर की सुरक्षा व्यवस्था के मुद्देनजर कुल 22 नाके  लगाए गए हैं जिसमें 5 नाके मेला परिसर के अंदर और 17 नाके मेला परिसर के चारों तरफ लगाये गए है।

मेला परिसर के सभी गेट, सभी जोन, फूड कोर्ट, वीआईपी पंडाल, और सभी पार्किग स्थल एवं अन्य जगह पर करीब 220 से अधिक कैमरे लगए गए है जिनको सूरजकुंड स्थित कंट्रोल रूम से जोेडा गया है। लोस्ट एंड फाउंड अनाउंसिग काउंटर भी बनाया गया है, इसके अलावा जो बच्चे अपने परिजनों से बिछड जाते है उनके लिए एक अलग से जगह बनाई गई है।

उन्होने बताया कि मेले की लोकप्रियता को देखते हुए वाहनों की बढती सख्या के मध्यनजर मीडिया पार्किंग सहित 10 वीआईपी पार्किंग के अलावा 12 अन्य पार्किग स्थल बनाए गए है।

मेले में आने वाले लोगों को स्वास्थ्य से संबंधित किसी भी तरह की परेशानी का सामना ना करना पड़े उसके लिए डॉक्टर भी मौजूद होंगे इसके अलावा 8 एंबुलेंस की व्यवस्था भी की गई है।

मेला पुलिस अधिकारी डॉक्टर अर्पित जैन ने सुरक्षा की दुष्टि से सभी मेला दर्शीयो से अनुरोध किया है कि अपने साथ माचिस, बीडी, सिगरेट व अन्य जवलनशील पदार्थ को साथ ना लाए वरना उनको एंट्री नही दी जाएगी।

डा० जैन ने कहा की सुरक्षा की दृष्टि से व जाम की स्थिति  से बचने के लिए गाडियों को निधारित पार्किग स्थल पर ही पार्क करें, अपने वाहन को सड़क पर पार्क ना करें। मेले के दौरान सुरक्षा व कानून व्यवस्था बनाए रखने में फरीदाबाद पुलिस की मदद करें।

डीसीपी ट्रैफिक फूल कुमार ने कहा कि, सूरजकुंड रोड पर 1 फरवरी 2020 से 16 फरवरी 2020 तक भारी वाहनों की नो एंट्री रहेगी।

अनख़ीर, अनंगपुर चौक सूरजकुंड शूटिंग रेंज के रास्ते दिल्ली जाने वाले हल्के वाहन चालक कार -जीप इत्यादि जो रोज इस रास्ते से दिल्ली ड्यूटी  जाते हैं, विशेषकर पीक हवर्स के समय, असुविधा से बचने के लिए बाईपास रोड एवं एनएच 2 मथुरा रोड का इस्तेमाल करें।

कार चालकों से भी अपील है की, जो कार चालक दिल्ली शूटिंग रेंज मार्ग से होते हुए फरीदाबाद आते हैं एवं सूरजकुंड रोड शूटिंग रेंज होते हुए दिल्ली जाते हैं वह भी सूरजकुंड मेले के दौरान इस रूट का कम से कम इस्तेमाल करें ताकि उन्हें आगे जाने में किसी भी तरह के परेशानी का सामना ना करना पड़े।

पुलिस प्रवक्ता सुबे सिंह ने बताया कि पुलिस आयुक्त महोदय ने सुरक्षा के मद्देनजर अधिकारियों के साथ दौरा किया है सूरजकुंड मेले की बाउंड्री, वीआईपी पंडाल, वीआईपी गेट के अलावा अन्य सभी गेट व सभी जोन व पार्किग स्थल को चैक किया और मीटिंग करके आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।

इस मौके पर पुलिस आयुक्त के साथ टूरिज्म के अलावा सूरजकुंड, डीसीपी एनआईटी पुलिस मेला  अधिकारी डॉक्टर अर्पित जैन, पुलिस उपायुक्त मुख्यालय डॉक्टर अंशु सिंगला, डीसीपी सेंट्रल लोकेंद्र सिंह ,डीसीपी बल्लभगढ़ राजेश कुमार, डीसीपी ट्रैफिक फुल कुमार, राजेश दुग्गल कमांडेंट थर्ड बटालियन, मकसूद अहमद एएसपी नारनौल के अलावा धारणा यादव एसीपी क्राइम अगेंस्ट वूमन ,एसीपी ट्रैफिक  अभिमन्यु, गजेंद्र शर्मा एसीपी एनआईटी, राजीव कुमार एसीपी सूरजकुंड, महेंद्र वर्मा एसीपी सेंट्रल, मोजीराम एसीपी सराय, जयवीर एसीपी सिटी बल्लभगढ़, सुखबीर सिंह एसीपी बड़खल, नरेंद्र सांगवान डीएसपी हिसार, शाकिर हुैसन डीएसपी पंचकूला, मोहम्मद जमाल डीएसपी रेवाड़ी, यशपाल खटाना डीएसपी पलवल, शकुंतला देवी एसीपी ट्रैफिक गुड़गांव व सेंट्रल और  बल्लभगढ़ जॉन के थाना प्रबंधक और ओआई/ इंस्पेक्टर सुमन कुमार, सिक्योरिटी इंस्पेक्टर सत्यवीर व अन्य पुलिस अधिकारी/कर्मचारी मौजूद थे।

Sharing Is Caring
Shafi-Author

Shafi Shiddique