Post

दिल्ली में 7 दिन तो हरियाणा में 3 दिन के लिए स्कूल बंद, पॉल्यूशन वाला लॉकडाउन

PNN/ Faridabad: दिल्ली के बढ़ते प्रदूषण (increasing pollution) पर राज्य सरकार की एक अहम बैठक हुई थी. जिसमें दिल्ली के स्कूलों को अगले एक हफ्ते तक बंद रखने का फैसला लिया गया है. वहीं बैठक के बाद अब कई गाइडलाइन भी सामने आ गई हैं.

अब हरियाणा सरकार ने भी स्कूलों को बंद करने का फैसला किया है

बढ़ते वायु प्रदूषण के कारण दिल्ली सरकार के बाद अब हरियाणा सरकार ने भी स्कूलों को बंद करने का फैसला किया है. सरकार ने गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत और झज्जर में 17 नवंबर तक स्कूल बंद करने की घोषणा की है. सरकार ने एनसीआर के इन सभी शहरों में हर तरह के निर्माण कार्यों पर भी रोक लगा दी गई है. सरकार ने इस बारे में विस्तृत गाइडलाइन जारी की है. वहीं शनिवार को दिल्ली सरकार ने भी घोषणा की थी कि सोमवार से एक हफ्ते तक राजधानी के सभी स्कूल बंद रहेंगे. सरकारी अधिकारियों व कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम पर भेज दिया गया है. सरकार निजी दफ्तरों के लिए भी इससे जुड़ी एडवाइजरी भेजेगी. 17 नवंबर तक निर्माण से जुड़ी सभी गतिविधियां बंद रहेंगी.
गाइडलाइन के मुताबिक राजधानी में अब पार्किंग चार्ज में तीन से चार गुना तक की वृद्धि की गयी है. इसके अलावा ईंट के भट्टे भी कुछ दिन के लिए बंद रखने के निर्देश दिए गए हैं.
बताया गया है कि अब दिल्ली में नियमित रूप से सड़कों की सफाई की जाएगी और पानी का भी छिड़काव होगा. जिन सड़कों पर ज्यादा धूल रहती है, वहां पर ऐसी मशीनों का ज्यादा प्रयोग किया जाएगा. इसके अलावा पब्लिक ट्रांसपोर्ट के इस्तेमाल पर भी जोर दिया गया है. लोगों से अपील हुई है कि वे दिल्ली मेट्रो या फिर बस का ज्यादा इस्तेमाल करें.
गाइडलाइन में ये भी बताया गया है कि जनरेटरों का कम से कम प्रयोग किया जाना है. वहीं सड़कों पर लगे खानों के ठेलों पर भी कोयले के इस्तेमाल पर रोक लगा दी गई है. इस सब के अलावा उन लोगों पर जुर्माना लगाने की भी बात कही गई है जो खुले में कूड़े को जला रहे हैं या फिर जारी की गईं गाइडलाइन का पालन नहीं कर रहे हैं.
अब जानकारी के लिए बता दें कि CAQM पिछले लंबे समय से राजधानी में प्रदूषण की स्थिति पर नजर बनाए हुए है. समय-समय पर नई गाइडलाइन भी जारी की गई हैं. अब जब फिर दिल्ली की हवा इतनी ज्यादा प्रदूषित हो चुकी है, ऐसे में CAQM भी एक्शन में है. अभी के लिए इन गाइडलाइन का तो पालन होना ही है, इसके अलावा एक हफ्ते के लिए स्कूल भी बंद कर दिए गए हैं. सरकारी कर्मचारियों को भी वर्क फ्रॉम होम करने के निर्देश दे दिए गए हैं.
समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि ये निर्णय प्रदूषण के हालात को लेकर आज शनिवार को बुलाई गई बैठक में लिया गया. स्कूलों में अवकाश घोषित करने को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि ये निर्णय बच्चों के हित में लिया गया. बच्चे प्रदूषित हवा में सांस ना लें, इसे देखते हुए स्कूलों में अवकाश का निर्णय लिया गया.

यह भी पढ़ें- MCD चुनाव में AAP की टिकट पाने के लिए प्रत्याशी ऐसे लगा रहे हैं जुगाड़

Sharing Is Caring
Shafi-Author

Shafi Shiddique