Post

जहां सत्य व धर्म है, वहीं ईश्वर हैं: मेहरचंद हरसाना

PNN/ Faridabad: देशभर में सोमवार को जन्माष्टमी धूमधाम से मनाई गई. भगवान कृष्ण के जन्मोत्सव की धूम फरीदाबाद में भी देखने को मिली. कृष्णोत्सव पर वरिष्ठ बसपा नेता एवं समाजसेवी वार्ड-9 मेहरचंद हरसाना (प्रधानजी) नगला एनक्लेव पार्ट-1 स्थित, संकट मोचन श्री बालाजी मंदिर पहुंचे. उन्होंने भगवान नंदलला के दर्शन किए. जन्माष्टमी के पर्व पर उन्होंने भगवान की पूजा-अर्चना की और लोगों को संबोधित भी किया. अपने संबोधन में मेहरचंद हरसाना ने कहा कि, ‘भगवान श्रीकृष्ण ने कहा है- जहां सत्य व धर्म हैं, वहीं ईश्वर है. कृष्ण को पूरा बृज प्यार और सम्मान करता था क्योकि वो दूसरों की मदद करते थे और दूसरो के दुखो को भी दूर करते थे. प्रत्येक व्यक्ति अपनी यथा शक्ति दूसरों की मदद जरूर करनी चाहिए.

Harsana

उन्होंने कहा कि भगवान श्री कृष्ण ने द्रोपदी के सम्मान की रक्षा के लिए एक बार बुलाने पर स्वयं आ गये क्योकि जब वीरों से भरा समाज किसी स्त्री की रक्षा करने में असमर्थ होता हैं तो भगवान को स्वयं ही आना पड़ता हैं.
हरसाना ने यह भी कहा कि भगवान कृष्ण ने जैसे ही जाना अपने मित्र सुदामा की गरीबी को तो वो तीनों लोक अपने मित्र के नाम कर दिया. मित्र को लेने नंगे पाँव घर के बाहर आये और अपनी गद्दी पर बिठाकर उनका सम्मान किया. मानव समाज के लिए उनकी मित्रता एक मिसाल हैं.
अंत में मेहरचंद हरसाना ने समस्त क्षेत्रवासियों को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं देने के साथ सभी से एक जिम्मेदार नागरिक होने का कर्तव्य निभाते हुए यह पर्व भी कोरोना के सरकारी नियमों का सही से अनुपालन करते हुए मनाने की अपील की.
इस मौके पर, मंदिर के पुजारी नरेंद्र पाठक, जीतराम पोसवाल, रवि बैसला, जगदीश बैसला, विजेंद्र तंवर सहित भारी संख्या में स्थानीय भक्तगण भी मौजूद रहे.

यह भी पढ़ें- इन्वर्टरों में बैटरी पर मिलेगा अनुदान, यहां करें अप्लाई

Sharing Is Caring
Shafi-Author

Shafi Shiddique