Post

विधायिका सीमा त्रिखा आशीर्वाद लेने पहुंची विजय रामलीला कमेटी

PNN/ Faridabad: नंबर-1 मार्केट स्थित, विजय रामलीला कमेटी (Vijay Ramleela Committee) द्वारा आयोजित की जा रही रामलीला में मंगलवार की रात को इतिहासिक और पौराणिक मंच पर प्रथम दृश्य में लंका की हदूद से विभीक्षण (वैभव लड़ोइया) को देश से निकाला दिया गया। विभीक्षण राम जी की शरण मे आये जहाँ राम जी ने उनका राज तिलक कर उसको लंकापति घोषित किया, उसके बाद हनुमान जी ने पत्थर पर राम नाम अंकित किया और उन पत्थरों से नल नील द्वारा सेतु बांधा गया, जिसपर चढ़कर सेना सहित राम दल ने लंका पर चढ़ाई की।

MLA Seema Trikha

इस अवसर पर शहर की विधायिका सीमा त्रिखा (बड़खल विधानसभा) भी पहुंची, कल विजय रामलीला के मंच पर भगवान राम से आशीर्वाद लेने और कमेटी ने उनके भावों का अभिनंदन कर मंच पर स्वागत किया।
अगले दृश्य में मंदोदरी (मनोज शर्मा) ने रावण (टेकचंद नागपाल) को युद्ध ना करने की सलाह दी और कहा कि सीता को वापिस लौटा दें जिसपर रावण क्रोधित हो उठा।  श्रीराम ने मर्यादा रखते हुए युद्धनीति के नियमों का पालन किया और बाली पुत्र अंगद को दूत बना कर रावण के दरबार में भेजा। अंगद बने गर्वित ने किया दमदार सम्वाद वहीं दूसरी ओर रावण बने टेकचन्द ने भी नहीं छोड़ी कोई कसर। दोनो के बीच डॉयलोग्स पर बजी ज़ोरदार तालियां। आज इसी मंच पर दिखाई जाएगी लक्ष्मण मूर्छा और महाबलशाली कुंभकर्ण का वध।

यह भी पढ़ें- हरियाणा पंचायत चुनाव: सुनवाई टला, इन नियमों के तहत हो सकते है इलेक्शन

Sharing Is Caring
Shafi-Author

Shafi Shiddique