Post

धार्मिक आयोजन से मिलती है एकता की सीख: मेहरचंद हरसाना

PNN/ Faridabad: हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी उड़िया कॉलोनी, एनआईटी-फरीदाबाद में नवंबर मास में कार्तिक पूर्णिमा के उपलक्ष्य में श्री श्री शिशु अनंत कीर्तन मंडली की तरफ से आयोजित 23वां कीर्तन अष्टम प्रहरी आज संपन्न हुआ.

इस संबंध में कीर्तन आयोजन समिति के लोगों ने बताया कि प्रत्येक वर्ष क्षेत्र की सुख समृद्धि व खुशहाली के लिए हरि नाम संकीर्तन का आयोजन उड़िया समाज के द्वारा किया जाता है.

Harsana

इस मौके पर बसपा नेता एवं समाजसेवी वार्ड-9 मेहरचंद हरसाना भी हरिनाम संकीर्तन में शामिल हुए. उन्होंने मत्था टेककर क्षेत्र की सुख समृद्धि की कामना की. उड़िया समाज के प्रमुख लोगों द्वारा मेहरचंद हरसाना को फूल मालाओं से स्वागत किया गया. इसपर हरसाना ने समस्त उड़िया समाज का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि धार्मिक आयोजन से हमें एकता की सीख मिलती है. यह दुर्भाग्य की बात है की हम सब आजकल वैश्विक कोरोना महामारी के काल में जी रहे हैं जिससे हमारे सामने भिन्न-भिन्न प्रकार की समस्याएं आ खड़ी हो गई है, लेकिन ऐसे विकट परिस्थिति में हमें धैर्य रखकर, कोरोना एहतियात का पालन कर परस्पर आगे बढ़ते रहना चाहिए.

हरसाना ने क्षेत्रीय नेताओं को भी ऐसे मौके पर आड़े हाथ लेते हुए कहा कि जनता पहले से ही प्राकृतिक आपदा की मार झेल रही है ऊपर से मूलभूत सुविधाओं से वंचित रखना कितना औचित्य है. क्षेत्रीय जनता के साथ घोर अन्याय हो रहा है, जिसका माकूल जवाब वक्त आने पर जनता अवश्य देगी.

कीर्तन अष्टम प्रहरी के आयोजन में उतकल सांस्कृतिक सेवा संघ के प्रधान सुखदेव बेहरा, चेयरमैन, धनेश्वर प्रधान उपाध्यक्ष, महासचिव पुरूषोत्तम प्रधान, निताम, अतुल दास, हरि साहू रंजन बेहरा सहित समस्त उड़िया समाज का प्रमुख योगदान रहा.

यह भी पढ़ें-

कोरोना वैक्सीन इस लिस्ट में नाम होने वाले को मिलेगा पहले: DC

Sharing Is Caring
Shafi-Author

Shafi Shiddique