Post

अनुसूचित जनजाति के साथ हो रहा अत्याचार अब नहीं किया जाएगा बर्दाश्त: अखिल भारतीय आदिवासी सेना

PNN/faridabad: अनुसूचित जाति/जनजाति के खिलाफ हो रहे अत्याचारों और भेदभाव को अब बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। यह वाक्य बुधवार को जंतर मंतर पर प्रदर्शन करते हुए अखिल भारतीय आदिवासी सेना ने सरकार के प्रति अपना विरोध प्रकट करते हुए कहे।

अभाअस सेना के संस्थापक प्रमुख उघाड़े ने इस मौके पर आरोप लगाया कि देश में एससी/एसटी पिछड़े समाज और अल्पसंख्यक समाज के लिए जो कानून बनाया गया है, उसका सही तरीके से पालन नहीं किया जा रहा है। इससे महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे राज्यों में दलितों और अल्पसंख्यंकों की दिनदहाड़े हत्या की जा रही है। देश में आदिवासी और दलित महिलाओं के साथ बलात्कार की घटनाएं दिन पर दिन बढ़ती जा रही है। इसके अलावा पुलिस द्वारा निरपराध लोगों को दिनदहाड़े मौत के घाट उतारा जा रहा है। 

उघाड़े ने कहा कि महाराष्ट्र के साथ अन्य प्रांतों में राशन कार्ड का एक रंग हो, देश में गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले लोगों को पांच हजार रुपये मासिक की आर्थिक मदद दी जाए। केंद्र व राज्य सरकारें रिक्त जगह में बसी हुई झोपड़ियों को हटाकर उन्हें समुचित नागरिक सुविधाएं मुहैया कराएं।

Sharing Is Caring
Shafi-Author

Shafi Shiddique